अर्जुन

अर्जुन का अपने ही बेटे बभ्रुवाहन के हाथों वध क्यों हुआ

महाभारत के युद्ध के उपरान्त भी महाभारत ग्रन्थ में ऐसी-ऐसी घटनाओं का वर्णन है जिसे सुनकर आपके रौंगटे खड़े हो जाते हैं। बहुत ही ज्ञान-वर्धक तथा तिलिस्म जैसी जान-पड़ती कथायें पढ़ने को मिलती हैं। ऐसी ही एक कथा मिलती है महाभारत के छठे खण्ड के आश्वमेधिक पर्व के अन्तर्गत अनुगीता पर्व के उनासी, अस्सी तथा …

अर्जुन का अपने ही बेटे बभ्रुवाहन के हाथों वध क्यों हुआRead More »