हिन्दी जोक्स और हिन्दी चुटकुले

  • धोनी ( एक साधु से ) -“बाबा मेरी बीवी परेशान करती है। कोई उपाय बताओ?”
    बाबा – “बेटा, उपाय होता तो मैं साधु क्यों बनता।”
  • रतन (फार्म भरते हुए अपने पिता से बोला ) -“मदर टङ्ग के आगे क्या लिखूँ ?”
    पिता – “लिख दे, बड़ी लम्बी ।”
  • रमेश ( रकेश से ) – “मुर्गा पहले आया या अण्डा ?”
    रकेश – “ओह यार, जिसका आर्डर पहले दिया वो ही आया होगा।”
  • रमा – “पत्नी हर जन्म में वही पती क्यों चाहती है ?”
    शमा -“ताकि उस पती को सुधारने में लगी उसकी मेहनत बेकार न चली जाये ।”
  • नवीन – “तुम्हें तो नरक में भी जगह नहीं मिलेगी ।”
    सुन्दर – “अच्छा है । वर्ना सब जगह तुम्हारे साथ रहते-रहते तो मैं पागल ही हो जाता।”
  • नन्हीं – “कितना अच्छा होता यदि मैं किताब होती और हर समय तुम्हारी आंखों के सामने रहती ।”
    मुन्ना – “कितना अच्छा होता कि तुम कैलेंडर होती ताकि मैं हर साल उसे बदल लिया करता।”
  • पति – पत्नी फिल्म देखने गये ! फिल्म आरम्भ होने से पहले पति ने पत्नी को एक बनारसी पान दिया ।
    पत्नी – “एक पान आप अपने लिए भी ले आते।”
    पति – “मैं तो बिना पान के भी चुप रह सकता हूं।”
  • कवि को भगवान ने दर्शन दिये।
    कवि – “आपने महिलाओं को इतना खूबसूरत क्यों बनाया है।”
    भगवान – “ताकि तुम उन्हें प्यार कर सको।”
    कवि – “तो आपने उन्हें इतना बुद्धु क्यों बनाया है।”
    भगवान – “ताकि वो भी तुम्हें प्यार कर सकें।”
  • छोरी -“अगर मैं मर जाऊँ तो तुम क्या करोगे ?”
    छोरा – “मैं भी मर जाऊँगा।”
    छोरी – “पर क्यूं ?”
    छोरा -“तेरे चक्कर में उधारी इतनी हो गई है कि अब जीना मुश्किल हो गया है।”

Comments

comments

Leave a Reply