Hindi poetry

1. ऐसे तो हो ही नहीं सकता वो हमें याद नहीं करते होंगे,

अरे। आँखों में आँसू लिए हमारा इन्तज़ार करते होंगे,

कौन जाने किस दिन मुलाकात हो जाए,

हमारी तरह वो भी खुद को रोज़ तैयार करते होंगे।

____________________________________________________

2. कभी हम यूँ ही कभी यूँ ही दिल जलाया करते हैं,

कभी कोई आँसू छलका देता है, कभी ये यूँ ही छलक जाया करते हैं।

____________________________________________________

3. मैं सारा दिन खुशीयों का राह देखता हूँ,

और तुम्हे देखने भर से खुशी मिल जाती है।

____________________________________________________

4. वो हमें छोड़ कर गए और वापस ना आए,

हम तो ढूँढते ही रह गए उनकी यादों के साए। (Happens to be my first poetic creation, ever)

____________________________________________________

Comments

comments

Leave a Reply