Kounye a Navigasyon kategori

Mahabharata

Nan Mahabharata a, ki te jwe wòl nan Vibhishana ak Kumbhakarna

रामायण व महाभारत ऐसे महाकाव्य हैं जिनसे मानवता को जीवन यापन करने के लिये नीति, कर्तव्य तथा त्याग का बोध होता है।

Ki sa ki nan swayamvar Draupadi rive wa li menm ki chèf

महाभारत के प्रथम खण्ड में धृष्टद्युम्न अपनी बहन द्रौपदी को उसके स्वयंवर में पधारे हुये राजा तथा राजकुमारों के नाम ज्ञात करवाता

Ki sa ki diferans ki genyen Dnurved

महाभारत के प्रथम खण्ड अनुसार जब कुरु राजकुमार बड़े होने लगे तो उनकी आरम्भिक शिक्षा का भार राजगुरु कृप के पास गया।

गाण्डीव धनुष का इतिहास

गाण्डीव धनुष का इतिहास बड़ा रहस्यमय है। इसके इतिहास में कई धनुषों का इतिहास छिपा है। यों महाभारत में तो इसके सम्बन्ध

जब आत्मग्लानि से भरकर दुर्योधन ने की आमरण अनशन की प्रतिज्ञा

अनशन करना आधुनिक राजनीतिक प्रतिनिधियों तथा सामाजिक जीर्णता को भङ्ग करने हेतु प्रयासरत कार्यकर्ताओं का बाण नहीं है। अनशन की प्रथा पूर्व

Istwa a nan 5 Tonton a Mahabharata

Like a story that we wrote about the four brother couples of Ramayana including Rama-Lakshmana, Vali-Sugriva, Ravana-Vibhishana, Apre sa, avantaj ki Jatayu, we are now

ज्वर की उत्पत्ति कैसे हुई

महाभारत के पञ्च खण्ड में ज्वर की उत्पत्ति का वर्णन आता है। ज्वर की अनुभूति शरीर के तापमान से होती है हमारे

Draupadi and Karna Love

I might be totally wrong because we can’t comment on Itihaas or Mithihaas with authority, but I will like to take a

badj